बिहार मे बाढ़ से नदियां उफान पर, कई जगहो पर यातायात बाधित

बिहार मे बाढ़ से नदियां उफान पर, कई जगहो पर यातायात बाधित

मॉनसून आते ही बिहार मे नदियां उफान पर है। नेपाल के पानी से कोशी व बागमती सहित कई नदियो का पानी गाँवो व सड़को पर आने लगा है। कोशी और बागमती के जल स्तर मे लगातार वृद्धि होती जा रही है। जिसके कारण नदियों के आस पास के इलाके वाले लोग सुरक्षित ठिकानो की तलाश मे है।

बीते कुछ दिनों से नदियों के जलस्तर मे लगातार उतार-चढ़ाव जारी है। गंडक बराज से भारी  मात्रा मे पानी छोड़ा जा रहा है। माधुबनी जिले मे कमला बलान नदी खतरे के निशान के ऊपर बह रही है। भूतही बलान,कोशी सहित अधवारा समूह की नदियों की जलस्तर मे वृद्धि होते जा रही है।

जलस्तर मे लगातार वृद्धि होने के कारण कई जगहो पर यतायात ठप हो चुका है। लदनियाँ मे धौस नदी एनएच 104 का कटाव जारी है। जिसके कारण सीतामढ़ी के चोरौत प्रखंड की दो पंचायतों को जोड़ने वाली सड़क पर रातो-रात नदी का पानी बहने से आवागमन ठप हो चुका है।

कटिहार मे महानंदा नदी के जलस्तर मे लगातार हो रही वृद्धि से नदी किनारे स्थित गाँव वाले लोग भयभीत है, और सुरक्षित ठिकानो की तलाश कर रहे है।बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल के अधिकारी ने बताया कि महानंदा के जलस्तर मे लगातार बढ़ोतरी दर्ज़ की जा रही है।जिससे कई जगहो पर यातायात ठप होने की संभावना बनी हुई है।

SEE ALSO  बिहार मे डबल डेकर फ़्लाइओवर का होगा निर्माण

अररिया के सिकटी बिलायती बाड़ी पीडब्ल्यूडी सड़क पर बना आरसीसी पुल ध्वस्त हो चुका है। इससे सिकटी से पड़रिया के क्षेत्र का यातायात ठप हो गया है। जिसके कारण लोगो को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

बारिश व बाढ़ से यातायात ठप होने के कारण सरकार की बाढ़ पूर्व तैयारियो की भी पोल खोल के रख दी है।

 

उज्जवल कुमार सिन्हा

न्यूज़नेट इनटर्न

Leave a Reply

Your email address will not be published.