विशेष राज्य के दर्जा के लिए चक्का जाम करना सही है क्या?

विशेष राज्य के दर्जा के लिए चक्का जाम करना सही है क्या?

महोदय

बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर जन अधिकार पार्टी की ओर से बिहार बंद किया गया । इस दौरान राज्य के कई इलाके मे बंद का असर देखा गया । इसी के साथ कार्यकर्ताओ ने सड़क जाम करके कई जगहो पर आगजनी की और तोडफोड भी किया। राजधानी मे बंद का नेतृत्व पार्टी के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने किया।

Photo by Seema Kumari

बीते शनिवार को बिहार बंद को लेकर जन अधिकार पार्टी ने डाकबंगला,सगुना मोड,बोरिंग रोड,और राज्य के कई जगहों पर  पार्टी के कार्यकर्ताओ ने चक्का जाम किया । जिसके कारण लोगो को बहुत मुश्किल का सामना करना पड़ा।

अब सवाल यह उठता है कि लोगो को परेशान करके बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिल जाएगा क्या ?

बिहार को विशेष राज्य का दर्जा को लेकर आए दिन कुछ न कुछ होते रहता है। विशेष राज्य के मांग के लिए लगातार बिहार बंद करना ये उचित नहीं है। बिहार बंद से लोगो को न जाने कितनी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। बंद के कारण लोगो को सड़कों पर पैदल ही चलना पड़ता है जिससे लोगो को काफी कुछ सहना पड़ता है।

Photo from Hindustan

वही एक स्थानीय अखबार मे भागलपुर का एक दृश्य दिखया गया,जिसमे पार्टी के कार्यकर्ता का आतंक साफ दिख रहा है। ये घटना भागलपुर के स्टेशन चौक की है, जहां पर समर्थको ने ऑटो पर लाठियाँ बरसाई । यह भी नहीं देखा कि ऑटो मे तीन लड़कियां बैठी है,और ऑटो मे बैठी लड़कियां इस घटना के कारण डरी –सहमी दिखी।

क्या बंद के दौरान आगजनी करना,तोडफोड करना,चक्का जाम करना,किसी की सम्पति का नुकसान करने से बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिल जाएगा क्या ?

ये सोचने वाली बात है इन सभी चीजों से बिहार का ही नाम बदनाम होते जा रहा है।  

 

उज्जवल कुमार सिन्हा

न्यूज़नेट इनटर्न

Leave a Reply

Your email address will not be published.