गोल्ड मेडल पाकर भावूक हुई आरुषी  जयसवाल 

गोल्ड मेडल पाकर भावूक हुई आरुषी  जयसवाल 

संत सवियर्स कॉलेज ऑफ़ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी की छात्रा आरुषी जयसवाल ने आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय के दिक्षांत समारोह में अपने पाठ्यक्रम में बेहतरीन प्रदर्शन के लिए गोल्ड मेडल जीता है। उन्होंने 8. 62 सीजीपीए प्राप्त कर ना सिर्फ अपना और अपने परिवार का बल्कि कॉलेज के नाम को भी ऊंचा किया है। संत सवियर्स कॉलेज में आरुषी बैचलर्स इन मास कम्युनिकेशन की छात्रा रही है।

28 सितम्बर को सम्राट अशोक केंद्र ,पटना  के बापू सभागार में आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविधालय के दिक्षांत समारोह का आयोजन किया गया था। बिहार के राज्यपाल एव आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविधालय के प्रमुख  लालजी टंडन ने सभी प्रतिभाओं को मेडल और सर्टिफिकेट देकर उनके सफल भविष्य के लिए प्रोत्साहित किया। मौके पर अथिति के रूप में राज्य के शिक्षा मंत्री कृष्णा नंदन प्रसाद और स्वस्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय उपस्थित थे।

आरुषी ने कहा ,”मैं दिल्ली में थी ,जब मुझे ये खबर मिली की मुझे गोल्ड मेडल से सम्मानित किया जायेगा। उस वक़्त की ख़ुशी मैं शब्दों में बया नहीं कर सकती। अपने आप को मध्यम वर्ग की छात्रा मैं हमेशा से समझती आयी हूँ , मेरे लिए ये किसी सपने से कम नहीं था।

आरुषी अपने कॉलेज से   मास कम्युनिकेशन विभाग की पहली गोल्ड मेडलिस्ट  बन चुकी है। आरुषी ने फिर कहा कि ” माँ और मामा जी ने हमेशा उनका साथ हर तरह से दिया और आगे बढ़ने का हौसला कभी टूटने नहीं दिया। मेरी ख़ुशी का सबसे बड़ा कारण ये है की जिन्होंने हर मोड हर सफर में मेरा मुझसे ज्यादा साथ दिया ,उनके चहेरे पर ख़ुशी थी। इससे बढ़कर मेरे लिए और कुछ नहीं है। जिस वक़्त लोगों ने मेरा नाम समाचार पत्र में देखा ,उस वक़्त घर में मानो त्योहार का मौसम छा गया था। मास कम्युनसिएशन मैंने अपने रूचि से लिया था ,मुझे शुरू से ही लिखने में और वीडियो एडिटिंग में बहुत ही ज्यादा मन लगता था।”

आरुषी फ़िलहाल दिल्ली के एक लोकल न्यूज़ चैनल में कंटेंट राइटर का काम कर रही है। आगे वो अपनी पढाई जारी रखना कहती है और मास्टर्स कर एक प्रोफेसर बनना चाहती है। आरुषी जयसवाल के साथ साथ संत सवियर्स कॉलेज के निहाल कुमार और संजू कुमारी को भी गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया है।

 

शिवांशु

Leave a Reply

Your email address will not be published.