पटना महाधर्मप्रान्तीय बाइबिल महोत्सव: धर्मग्रन्थ में शान्ति एवं सदभाव का समारोह

पटना महाधर्मप्रान्तीय बाइबिल महोत्सव: धर्मग्रन्थ में शान्ति एवं सदभाव का समारोह

पटना (बिहार): दिनांक 15 अक्टूबर (सोमवार) को पूरे बिहार मे ईसाई प्रतिनिधि एवं प्रतिभागी लगभग तीन हजार की संख्या में कुर्जी स्थित ‘ प्रेरितों की महारानी ईश मंदिर गिरजाघर’ के परिसर मे एकत्रित होने जा रहे है। पिछले वर्ष पटना के महाधर्माध्यक्ष विलियम डिसूजा, ये.स. ने इस वर्ष को बाइबिल वर्ष  धोषित किया था। त्रिदिवसीय समारोह के साथ बाइबिल समारोह का समापन किया जाएगा। फादर रेमण्ड केरोबिन, ये.स., बिहार काथलिक समुदाय के पब्लिक रिलेशन ऑफिसर एवं कुर्जी चर्च के पल्ली पुरोहित ने कहा है कि इस त्रिदिवसीय कार्यक्रम (15, 16, एवं 17 अक्टूबर) में बाइबिल पर आधारित विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। इसका उदेश्य है- धर्मग्रन्थ बाइबिल के आधार पर हम ईश्वरीय प्रेम एवं क्षमा को समझ सके।

इस वर्ष बिहार के विभिन्न काथलिक पल्लियों में बाइबिल पर आधारित विभिन्न कार्यक्रमों, यथा- गीत, नृत्य, कौवाली, लघु नाटिका आदि का आयोजन सम्पन्न किया गया। साथ ही साथ प्रार्थना सभा, प्रवचन आदि से विश्वासीगण लाभान्वित हुए तथा ईसाई जीवन में धर्मग्रन्थ बाइबिल के महत्व को समझे थे।

इस बाइबिल महोत्सव का उद्घाटन दिनांक 15 अक्टूबर को संध्या 3:30 बजे, काथलिक चर्च, कुर्जी के आहाते में स्थित हार्टमन स्कूल के परिसर में अति माननीय महाधर्माध्यक्ष विलियम डिसूजा, ये.स. के कर कमलों द्वारा किया जाएगा। तत्पश्चात कुर्जी चर्च परिसर से बाइबिल कि एक भव्य यात्रा निकाली जाएगी, जो संत माइकल स्कूल परिसर में समाप्त होगी। महाधर्माध्यक्ष जी का कहना है कि यह एक धन्यवादी समारोह है, जिसमे हम अपने ईश्वर को उनके पवित्र वचनों के लिए, बाइबिल के लिए तथा उनके सभी वरदानों के लिए धन्यवाद देगें। कार्यक्रम में जाने-माने शिक्षाविद, श्री ए.वी. जोस एवं उनके दल के दवारा प्रार्थना सभा का आयोजन किया जाएगा तथा विभिन्न संस्थानों (जैसे – नोट्रेडेम, होली फैमिली अस्पताल, कुर्जी युवा दल आदि) से आए युवक-युवातियों द्वारा बाइबिल पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए जाएँगे।

SEE ALSO  बिहार के कुछ और प्रखंड हो सकते है सूखाग्रस्त मे शामिल   

दिनांक 16 अक्टूबर को प्रातः 6:30 बजे से प्रार्थना सभा का आयोजन होगा, जिसमे गीत, भजन, साक्षी, मिस्सा-पूजा आदि का भी आयोजन किया जाएगा। इस दिन भी संध्या बेला में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया है, जिसमे बाढ़, मोकामा, गया आदि विभिन्न जगहों से आए श्रद्धालु भक्तगण भाग लेंगे।

दिनांक 17 अक्टूबर को पुनः बाइबिल यात्रा के साथ दिन की शुरुआत होगी तथा समापन महाधर्माध्यक्ष विलियम डिसूजा, ये.स. के द्वारा पवित्र मिस्सा-बलिदान के साथ होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.